MS Office Kya Hai | एमएस ऑफिस क्या है (इतिहास, प्रकार, लाभ 2024)

MS Office Kya Hai : यदि आप कंप्यूटर या लैपटॉप का इस्तेमाल करते हो या अभी अभी इनका इस्तेमाल करना सीखा होगा तो आपने MS Office के बारे में जरूर सुना होगा। ऐसे में काफी सारे लोग हो सकते है जिनको एमएस ऑफिस के बारे में पूरी जानकारी जरूर होगी लेकिन कुछ लोग ऐसे भी जिनको पता ही नही है की MS Office Kya Hai और MS Office के फायदे क्या क्या है?

अतः इस लेख में आज हम आप सभी को एमएस ऑफिस के बारे में ही बताने जा रहे हैं। आपको यह बात समझना होगा की आज का समय ऐसा है की अधिकतर काम कंप्यूटर के माध्यम से पूरे किए जाते है। बिना कंप्यूटर के आज के समय में तरक्की करना मुमकिन नहीं है। इस तरह से जो भी लोग MS Office या फिर कंप्यूटर सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी रखते है उनके जीवन में आगे चलकर यह काफी काम आने वाला है।

इसलिए इस लेख में आज आप सभी को विस्तार से बताया जायेगा की

  • एमएस ऑफिस क्या है?
  • एमएस ऑफिस का इतिहास क्या है?
  • एमएस ऑफिस के प्रकार कौन कौन से है?
  • एमएस ऑफिस के फायदे क्या क्या है?

इसके साथ आपको अन्य कई सारी चीजों के बारे में आगे इस लेख में बताया जायेगा। अगर आप वाकई में जानना चाहते हो की एमएस ऑफिस क्या होता है और इसके फायदे क्या क्या है तो हमारे साथ आखिर तक इस लेख में जरूर बने रहिएगा तभी सारी चीजे आपकी समझ में आयेंगी।

MS Office Kya Hai | What is MS Office in Hindi

MS Office यानी की माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस कई सारे कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर का एक पूरा पैकेज है और इस पैकेज यानी की Bundle में कई सारे अलग अलग प्रकार के सॉफ्टवेयर शामिल होते है जिनका इस्तेमाल कंप्यूटर या लैपटॉप में अलग अलग तरह के कार्य को पूरा करने के लिए किया जाता है। एमएस ऑफिस को Microsoft Corporation द्वारा बनाया गया है जो की एक विशाल अंतराष्ट्रीय कंपनी है। 

Ms office kya hai

कंप्यूटर या लैपटॉप में इस्तेमाल होने वाले MS Word, MS Excel, MS Powerpoint और अन्य तरह में सॉफ्टवेयर माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन द्वारा बनाए गए है। इनके द्वारा कंप्यूटर या लैपटॉप के माध्यम से ऑफिस से संबधित Basic से लेकर Advance Level के कार्यों को पूरा किया जाता है। इसका अर्थ हुआ की एमएस ऑफिस का इस्तेमाल मुख्य रूप से ऑफिस कार्यों को पूरा करने के लिए ही किया जाता है।

इसके साथ MS Office के अंतर्गत आने वाले MS Word का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है। एमएस ऑफिस बंडल में शामिल सभी Softwares का उपयोग केवल लैपटॉप या कंप्यूटर में ही पूर्ण रूप से किया जा सकता है। लेकिन वर्तमान समय में इन कंप्यूटर एप्लीकेशन के मोबाइल वर्जन भी उपलब्ध हो चुके है। डिजिटल लैटर लिखने, ईमेल भेजने, प्रेजेंटेशन बनाने के लिए और अन्य कार्यों के लिए एमएस ऑफिस सॉफ्टवेयर्स का इस्तेमाल किया जाता है। 

एमएस ऑफिस का इतिहास | History of MS office 

वर्ष 1989 में माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन द्वारा सबसे पहले MS Office को लॉन्च किया गया था जिसे उस समय C++ प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की मदद से बनाया गया था। MS Office को शुरुआत में केवल MAC ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए लॉन्च किया गया था। इसके बाद विंडो ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए तारीख 19 नवंबर 1990 में एमएस ऑफिस का पहला वर्जन मार्केट में लाया गया था। 

इस वर्जन में MS Word, MS Excel और MS Powerpoint शामिल थे। लेकिन आज के समय में MS Office के अंतर्गत कई सारे सॉफ्टवेयर लॉन्च किए जा चुके हैं जिनमे MS Access, MS Outlook, MS Publisher, MS OneNote आदि शामिल है। इसके अलावा एमएस ऑफिस को लॉन्च करने का सबसे बड़ा कारण यह था की एमएस ऑफिस के आने से पहले ऑफिस से संबधित सभी कार्य लोगों द्वारा हाथ से किए थे।

प्रेजेंटेशन हाथों से बनाए जाते यह, लैटर और ईमेल हाथों से लिखे जाते थे, स्प्रेडशीट हाथों से बनाए जाते थे जिस वजह से काफी सारा समय लोगों का खर्च हो जाता था। इसके साथ एक बार जब कार्य पूरा हो जाता था तो उसमे बाद में कोई बदलाव करना भी मुमकिन नही हो पाता था। इसी वजह से माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन की तरफ से MS Office को मार्केट में लॉन्च किया गया था। 

एमएस ऑफिस के प्रकार | Various Components of MS Office

जब Microsoft कंपनी की तरफ से MS Office को लॉन्च किया गया था तब केवल 3 ही सॉफ्टवेयर इस पैकेज में शामिल थे लेकिन वर्तमान समय में काफी सारे Components, MS Office में शामिल हो चुके है जिनके बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है। 

1. एमएस वर्ड (MS Word)

एमएस ऑफिस के अंतर्गत आने वाले सॉफ्टवेयर MS Word का इस्तेमाल सबसे अधिक किया जाता है। Letter लिखने के लिए, Document बनाने के लिए, Font Editing आदि जैसे कार्यों के लिए एमएस वर्ड का इस्तेमाल होता है।

2. एमएस एक्सेल (MS Excel)

एमएस ऑफिस का दूसरा कंपोनेंट MS Excel है जिसका इस्तेमाल स्प्रेडशीट बनाने के लिए किया जाता है। इसमें गणितीय डाटा की कैलकुलेशन की जाती है।

3. एमएस एक्सेस (MS Access)

तीसरा कंपोनेंट MS Access है जिसका इस्तेमाल भी आज के दौर में काफी ज्यादा किया जाता है। इसकी मदद से किसी भी प्रकार के डाटा को Table यानी की सारणी के माध्यम से प्रदर्शित किया जाता है। 

4. एमएस आउटलुक (MS Outlook)

अगला कंपोनेंट MS Outlook है जिसका उपयोग Email भेजने, Email मैनेज करने और Email प्राप्त करने आदि जैसे कार्यों के लिए किया जाता है। 

5. एमएस पावरप्वाइंट (MS Powerpoint)

MS Powerpoint भी एमएस ऑफिस का एक लोकप्रिय सॉफ्टवेयर हैं। इसका उपयोग प्रोफेशनल प्रेजेंटेशन बनाने के लिए किया जाता है जिसे आप सभी PPT के नाम से जानते है।

6. एमएस पब्लिशर (MS Publisher)

वर्ष 1991 में MS Publisher को मार्केट में लाया गया था जिसके द्वारा Publications Card जैसे की Business Card, Greeting Card, Calendars आदि बनाए जा सकते है।

7. एमएस वननोट (MS OneNote)

कंप्यूटर में अपनी आवाज को रिकॉर्ड करके तथा उससे Notes बनाने के लिए MS OneNote सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाता है।

8. एमएस पिकचर मैनेजर (Microsoft Picture Manager)

फोटो एडिटिंग, फोटो डिजाइनिंग जैसे कार्यों को MS Picture Manager द्वारा किए जाते है। यह एक तरह का ग्राफिक डिजाइनर है जिसे वर्ष 2003 में लॉन्च किया गया था। 

एमएस ऑफिस की विशेषताएं | Various Features of MS Office

यहां नीचे आपको एमएस ऑफिस के कई सारी विशेषताओं में बारे भी बताया गया है। साथ ही आप इसे MS Office के लाभ के रूप में देख सकते हो।

  • एमएस ऑफिस के द्वारा सभी मानवीय कार्यों को कम्प्यूटर के द्वारा आसानी से किया जा सकता है।
  • यदि आप कोई नया कंप्यूटर या लैपटॉप खरीदते हो तो एमएस ऑफिस के सभी कंपोनेंट आपको पहले से Installed मिल जाते है।
  • एमएस ऑफिस के सभी Components बहुत ही कम स्टोरेज कंप्यूटर में इस्तेमाल करते है जिसकी मदद से आसानी से इसका इस्तेमाल कंप्यूटर या लैपटॉप में किया जा सकता है।
  • MS Office समय समय पर नए नए अपडेट लेकर आता है जिसकी वजह से आपको एमएस ऑफिस के सभी कंपोनेंट्स में कई सारे नए फीचर्स समय समय पर देखने को मिल जाते है।
  • एमएस ऑफिस के सभी एप्लीकेशन यानी की सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करना काफी आसान होता है जिसे कोई भी यूजर कुछ अभ्यास के बाद आसानी से सीख सकता है।
  • एमएस ऑफिस के सभी Components का इस्तेमाल आप अपने लैपटॉप या कंप्यूटर में बिलकुल फ्री में कर सकते हो। इसके लिए आपको कोई भी पैसे देने की जरूरत नही है।

एमएस ऑफिस के संस्करण | MS office Versions in Hindi

शुरुआत से लेकर अभी तक MS Office के जितने भी Versions लॉन्च किए गए है उनके बारे में नीचे जानकारी दी गई है।

MS Office Versions Release Date 
MS Office 1.019 November 1990
MS Office 3.030 August 1992
MS Office 4.017 January 1994
MS Office 9524 August 1995
MS Office 9719 November 1996
MS Office 200007 Jun 1999
MS Office 200319 August 2003
MS Office 200730 January 2007
MS Office 2010Jun 2010
MS Office 201329 January 2013
MS Office 201622 September 2015
MS Office 201924 September 2018
MS Office 202105 October 2021

एमएस ऑफिस क्या है – FAQs 

  • Q.1 एमएस ऑफिस में क्या क्या आता है?

    Ans :– एमएस इक्सेल, एमएस वर्ड, एमएस पावरपॉइंट, एमएस वननोट, एमएस एक्सेस, एमएस आउट्लुक, एमएस पब्लिशर आदि एमएस ऑफिस अंतर्गत के आते हैं।

  • Q.2 माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस के पांच कार्य क्या हैं?

    Ans :– डॉक्यूमेंट तैयार करना, ईमेल भेजना, लैटर लिखना, फ़ॉन्ट एडिटिंग और डाटा एंट्री सभी माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस के कार्य है।

  • Q.3 एमएस ऑफिस कब बनाया गया?

    Ans :– तारीख 19 November 1990 को एमएस ऑफिस का पहला वर्जन लॉन्च हुआ था। 

  • Q.4 एमएस ऑफिस के जनक कौन है?

    Ans :– एमएस ऑफिस को माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन द्वारा डेवलप किया गया था और माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन की स्थापना बिल गेट्स और पॉल एलन द्वारा किया गया है।



MS Office Kya Hai – निष्कर्ष 

आज हमने इस लेख में आप सभी को विस्तार पूर्वक MS Office के बारे में बताया है। एमएस ऑफिस क्या है? एमएस ऑफिस का इतिहास क्या है? एमएस ऑफिस के प्रकार कौन कौन से है? एमएस ऑफिस के फायदे क्या क्या है? आदि सवालों के जवाब हमने इस लेख में आपको दिया हैं। अतः आप सभी से उम्मीद है की आपको यह लेख जरूर पसंद आया होगा। यदि लेख पसंद आए तो इसे शेयर जरूर करें।

4 thoughts on “MS Office Kya Hai | एमएस ऑफिस क्या है (इतिहास, प्रकार, लाभ 2024)”

Leave a Comment